Home » प्रथम तिमाही में ग्रेविटा की आय 21 प्रतिशत बढ़ी
Business Featured

प्रथम तिमाही में ग्रेविटा की आय 21 प्रतिशत बढ़ी

भारत कि एक अग्रणी रीसाइकलिंग कंपनी, ग्रेविटा इंडिया नेआज 30 जून 2023 को समाप्त हुई तिमाही/तीन महीने के अपने वित्तीय परिणामों की घोषणा की है |

ग्रेविटा इंडिया ने वित्त वर्ष 2024 की प्रथम तिमाही में जोरदार वित्तीय प्रदर्शन करना जारी रखा है | वित्त वर्ष 2024 के प्रथम तिमाही में आय वार्षिक आधार पर 21% की वृद्धि दर्ज करते हुए ₹ 703 करोड़ हुई | बिक्री की बढ़ती हुई मात्रा और बेहतर प्राप्ति से आय ग्रोथ को मदद मिली | कुल मिलाकर बिक्री की मात्रा में वार्षिक आधार पर 18% की वृद्धि हुई |

वित्त वर्ष 2024 की प्रथम तिमाही में एबिटडा वित्त वर्ष 2023 की प्रथम तिमाही के ₹65 करोड़ की तुलना में वार्षिक आधार पर 24% बढ़कर ₹ 80 करोड़  हुआ | एबिटडा मार्जिन 11% हुई और कंपनी ने तिमाही के दौरान प्रमुख कच्चेमटेरियल्स में बढ़ते हुए लागत दबाव के बावजूद बेहतर मार्जिन बरकरार रखना जारी रखा है | कर बाद लाभ वित्त वर्ष 2023 की प्रथम तिमाही के ₹43 करोड़ की तुलना में वार्षिक आधार पर 22% बढ़कर ₹52 करोड़ हुआ | कर बाद लाभ मार्जिन 7.40% हुई |

हाल में कंपनी ने तंजानिया में रबड़ का व्यापारिक उत्पादन शुरू किया है,और अपने चित्तूर और मुद्रा प्लांट की उत्पादन क्षमता बढ़ाईहै |

ग्रेविटा इंडिया ने रीसाइक्लिंग उद्योग में अपनी लीडरशिप पोजिशन बरकरार रखी है और वह सर्कुलर अर्थव्यवस्थाओं के निर्माण पर फोकस कदम के रूप में उभरते अवसरों का फायदा लेने के लिए अच्छी पोजीशन में है | मैनेजमेंट विश्वसनीय एप्रोच और सभी स्टेकहोल्डरोंके लिए वैल्यूका निर्माण करने के साथ अपने दीर्घकालीन ग्रोथ प्लान पर आगे बढ़ने के लिए प्रतिबद्ध है |

ग्रेविटा 2,78,059 मेट्रिक टन वार्षिक की क्षमता और 12 इको-कॉन्शियस अत्याधुनिक मैंन्यूफैक्चरिंग सुविधाओं के साथ एक प्रमुख ग्लोबल रीसाइकलिंग कंपनी है | ग्रुप की 30 वर्षों के 5 बिजनेस वर्टिकल्स के साथ 30 वर्षों का रीसाइक्लिंग डीएनए रखते हुए 70 से अधिक देशों में उपस्थिति है | कंपनी एनएसई और बीएसई पर लिस्टेड टॉप 600 कंपनियों में से एक है |