Home » ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया का तिमाही में राजस्व और मुनाफा बढ़ा
Business Featured

ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया का तिमाही में राजस्व और मुनाफा बढ़ा

भारत की प्रमुख इंटीग्रेटेड सप्लाई चेन और लॉजिस्टिक्स सॉल्यूशन प्रोवाइडर, ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड ने आज 31 दिसंबर 2023 को समाप्त तीसरी तिमाही और नौ महीनों के अपने वित्तीय परिणामों की घोषणा कर दी है। इस तिमाही में कंपनी के कुल रेवेन्यू में पिछले वर्ष की इसी तिमाही की तुलना में 2.2 प्रतिशत  की वृद्धि दर्ज की गई है। वहीं, इस अवधि के दौरान कंपनी मुनाफे में सालाना आधार पर 0.3 प्रतिशत  की वृद्धि दर्ज की गई है।

स्टैंडअलोन (एकीकृत) आधार पर एबिटा वित्त वर्ष 2023 की तीसरी तिमाही के 1,376 मिलियन से बढ़कर 1,386 मिलियन रही । एबिटा मार्जिन सालाना आधार पर 15.62 प्रतिशत की जगह 15.40 प्रतिशत  रहा।कर पश्‍चात लाभ वित्त वर्ष 2023 की तीसरी तिमाही के  953 मिलियन रुपये से बढ़कर 956 मिलियन रुपये  रहा। इसमें सालाना आधार पर 0.3 प्रतिशत  फीसदी की बढ़त हुई है। वित्त वर्ष वित्त वर्ष 2024 की तीसरी तिमाही में कंपनी का पीएटी मार्जिन 10.62 प्रतिशत  दर्ज किया गया। जबकि, वित्त वर्ष 2023 की तीसरी तिमाही में कंपनी का पीएटी मार्जिन 10.82 प्रतिशत  था।

कंसोलिडेटेड (समेकित) आधार पर एबिटा वित्त वर्ष 2023 की तीसरी तिमाही के 1,316 मिलियन रुपये की जगह 1,276 मिलियन रुपये रहा । एबिटा मार्जिन सालाना आधार पर 13.61 प्रतिशत  की जगह 12.73 प्रतिशत  रहा । कर पश्‍चात लाभ वित्त वर्ष 2023 की तीसरी तिमाही के   865 मिलियन रुपये की जगह 802 मिलियन रुपये  रहा ।वित्त वर्ष वित्त वर्ष 2024 की तीसरी तिमाही में कंपनी का पीएटी मार्जिन 8.00 प्रतिशत  रहा है। जबकि, वित्त वर्ष 2023 की तीसरी तिमाही में कंपनी का पीएटी मार्जिन 8.95 प्रतिशत  था।

इन नतीजों पर कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्‍टर, श्री विनीत अग्रवाल ने कहा, “कंपनी ने मैक्रो वातावरण में चुनौतियों के चलते, चालू तिमाही और दिसंबर 2023 को समाप्त नौ महीनों में स्थिर प्रदर्शन किया है। हमारे सप्लाई चेन सॉल्यूशन, रेल मल्टी-मोडल और कोल्ड सप्लाई चेन सोल्यूशन में तेजी देखने को मिली।

हम वेयरहाउसिंग, मल्टीमोडल इंफ्रास्ट्रक्चर और अत्याधुनिक तकनीक में निवेश को प्राथमिकता देकर भारतीय उपमहाद्वीप में अपने ग्राहकों के लिए पसंदीदा लॉजिस्टिक्स पार्टनर बने रहने के लिए सतत प्रयासरत हैं।

भविष्‍य में, टीसीआई नए अवसरों का लाभ उठाते हुए, देश में अधिक कुशल और प्रतिस्पर्धी लॉजिस्टिक्स पारितंत्र को आकार देने के लिए तैयार है।”