Home » सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक का लाभ चार गुना बढ़ा
Business Featured

सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक का लाभ चार गुना बढ़ा

सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक का निवल लाभ 31 दिसंबर, 2023 को समाप्त तीसरी तिमाही के दौरान चार गुना से अधिक की बढ़ोतरी के साथ 57 करोड़ रुपये दर्ज किया गया है, जो एक साल पहले की इसी अवधि में 18 करोड़ रुपये था।

प्रावधान से पहले परिचालन लाभ 63 करोड़ रुपये के की तुलना में बढ़कर 114 करोड़ रुपये तक पहुँच गया। 34% की वृद्धि के साथ ब्याज से निवल आय 183 करोड़ रुपये के मुकाबले 246 करोड़ रुपये दर्ज किया गया। इस अवधि के लिए प्रावधान पहले के 40 करोड़ रुपये के मुकाबले 38 करोड़ रुपये था।

दिसंबर के अंत में बैंक की सकल अग्रिम राशि 41% की बढ़ोतरी के साथ 7,600 करोड़ रुपये हो गई। 38% की वृद्धि के साथ जमा-राशि 6,484 करोड़ रुपये हो गई, जिसमें खुदरा जमा की हिस्सेदारी 82.5% रही।

बैंक का सकल एनपीए 2.9% दर्ज किया गया, जो एक साल पहले 4.2% था। निवल एनपीए 2.7% की तुलना में 1.4% रहा।

मौजूदा प्रदर्शन के बारे में अपने विचार व्यक्त करते हुए, सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक के एमडी एवं सीईओ, श्री भास्कर बाबू ने कहा: “वित्त-वर्ष 24 के पहले नौ महीनों के दौरान हमारा प्रदर्शन इस बात को उजागर करता है कि, हम निरंतर विकास और बेहतर लाभप्रदता के अपने संकल्प पर कायम हैं। पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में 9M FY24 के दौरान सकल अग्रिम-राशि 40.5% की बढ़ोतरी के साथ 7,600 करोड़ रुपये हो गई। कुल मिलाकर सभी क्षेत्रों में बैंक के बेहतर प्रदर्शन के साथ-साथ माइक्रोफाइनांस क्षेत्र में लगातार प्रगति की वजह से यह विकास संभव हो पाया है। विकास लोन प्रोडक्ट लगातार लोकप्रियता हासिल कर रहा है और एयूएम 2,000 करोड़ रुपये को पार कर गया है। बैंक का संवितरण वित्त-वर्ष 2023 के 9 महीनों के दौरान 3,396 करोड़ रुपये से बढ़कर वित्त-वर्ष 2024 के 9 महीनों में 4,580 करोड़ रुपये हो गया, जिसमें साल-दर-साल आधार पर 34.9% की वृद्धि दर्ज की गई। संवितरण में बढ़ोतरी हमारे सभी प्रोडक्ट्स, खास तौर पर विकास लोन प्रोडक्ट की वजह से संभव हुआ है, जिसमें सालाना आधार पर 97% बढ़ोतरी दर्ज की गई है।

कुल जमा राशि की बात की जाए, तो यह भी वित्त-वर्ष 2023 के 9 महीनों के दौरान ₹4,697 करोड़ से बढ़कर वित्त-वर्ष 2024 के 9 महीनों में 6,484 करोड़ रुपये हो गई। हमने हमेशा एक विस्तृत रिटेल डिपॉजिट बुक बनाने पर विशेष ध्यान दिया है, और कुल जमा-राशि के % के रूप में CASA सहित रिटेल डिपॉजिट वित्त-वर्ष 2023 के 9 महीनों के दौरान 77.9% की तुलना में वित्त-वर्ष 2024 के 9 महीनों में 82.5% दर्ज की गई। कम लागत वाले CASA को जुटाने से फंड की लागत स्थिर हो गई है और मिश्रित जमा-राशि में सुधार हुआ है। ऐसेट क्वालिटी के मामले में, शानदार गिरावट के साथ वित्त-वर्ष 2024 के 9 महीनों के अंत में GNPA 2.9% था, जो वित्त-वर्ष 2023 के 9 महीनों के दौरान 4.2% था। वित्त-वर्ष 2024 के 9 महीनों में निवल एनपीए 1.4% था, जबकि वित्त-वर्ष 23 के 9 महीनों में यह 2.7% था।

दिसंबर 2023 के महीने अंत तक कुल संग्रह दक्षता 100.1% थी। हमने विकास और ऐसेट क्वालिटी को बनाए रखने पर लगातार ध्यान दिया है। इसके अलावा, बैंक किसी भी प्रकार के अनचाहे जोखिम को कम करने के लिए फ्लोटिंग प्रावधान और CGFMU कवर तैयार करना जारी रखेगा। मुनाफ़े की बात की जाए, तो वित्तीय वर्ष के पहले नौ महीनों के दौरान बैंक की निवल ब्याज आय, पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में 28.9% बढ़कर 691.5 करोड़ रुपये हो गई। बैंक ने आय की लागत में स्थिरीकरण के साथ-साथ सभी प्रमुख मैट्रिक्स में सुधार दिखाया है, जिसके कारण प्रावधान-पूर्व परिचालन लाभ में बढ़ोतरी हुई है।

पहले भी बताया जा चुका है कि, हमने 31 दिसंबर, 2023 को समाप्त तिमाही के लिए 127.2 करोड़ रुपये (CGFMU व्यय को छोड़कर) और 114.2 रुपये (CGFMU व्यय सहित) का तिमाही PPOP वितरित किया है और हम आगे भी PPOP लक्ष्यों को पूरा करने का प्रयास करते रहेंगे। बॉटम-लाइन में उल्लेखनीय सुधार देखा गया, जो वित्त-वर्ष 2023 के 9 महीनों के दौरान ₹38.8 करोड़ से बढ़कर वित्त-वर्ष 2024 के 9 महीनों में 155.1 करोड़ रुपये हो गया।”