Home » एचडीएफसी बैंक को एएसबीए सुविधा के लिए मंजूरी
Business Featured

एचडीएफसी बैंक को एएसबीए सुविधा के लिए मंजूरी

एचडीएफसी बैंक जो कि कैश एवं इक्विटी सेगमेंट्स का एनएसई और बीएसई पर एक अग्रणी क्लियरिंग एवं सेटलमेंट बैंक है और “सेकेंडरी मार्केट में अवरुद्ध राशि द्वारा समर्थित कारोबार” के लिये एक प्रायोजक एवं गंतव्य बैंक के रूप में कार्य किया है,  ने 1 जनवरी 2024 से भारतीय स्टॉक एक्सचेंजों पर संचालन शुरू कर दिया है।सेबी ने 1 जनवरी 2024 इसकी स्वीकृति प्रदान कर दी है।

सेबी और स्टॉक एक्सचेंजों ने प्राथमिक बाजारों के लिए अस्बा (एएसबीए) की तर्ज पर 1 जनवरी, 2024 से सेकेंडरी मार्केट के लिए वैकल्पिक आधार पर ब्लॉक   मैकेनाइज़्म के जरिये नकद खंड में ट्रेडिंग की अनुमति प्रदान कर दी है, जिससे  निवेशकों का धन उनके बचत खाते में बना रहेगा एवं कारोबार करने के लिए निवेशक को अग्रिम राशि ब्रोकर के खाते में स्थानांतरित करने की जरुरत नहीं होगी एवं आवश्यक धन राशि अवरुद्ध नहीं होगी।

बैंक एक्सचेंजों और संबंधित क्लियरिंग कॉरपोरेशन के साथ अपने सिस्टम के एकीकरण के माध्यम से सेबी की इस नई पहल का समर्थन करने में सक्षम है। यह सिस्टम एकीकरण निवेशक सत्यापन, ब्लॉक निर्माण, रिलीज़, निरस्तीकरण, निष्पादन और दिन के अंत में समाधान और रिपोर्टिंग की सुविधा प्रदान करता है। धनराशि के ब्लॉक/रिलीज का यूपीआई समर्थित प्रौद्योगिकी समाधान निवेशकों को मार्जिन और निपटान दायित्वों को निर्बाध रूप से पूरा करने में मदद करता है।